Sunday, February 14, 2016

प्यार अगर हो तो जैसे दिल-जिस्म का...


प्यार,
अगर हो तो
हो चौबीसों घंटे का
हो पूरे महीने का
हो पूरे साल का
हो जीवनभर का,
जैसे होता है
दिल और जिस्म का...
जिस्म रहता है 
हमेशा संभाले हुए दिल को
फूल की तरह,
और दिल
चलता रहता है
धड़कता रहता है
हमेशा-हमेशा
जिस्म के लिये...
रिश्ता खत्म
प्यार खत्म
तो समझो
खेल खत्म...

हैप्पी वैलेंटाइंस डे

- विशाल चर्चित

No comments:

Post a Comment