Tuesday, October 28, 2014

वर्ना.... आप दोनों से कट्टी !!!


पापा,
यहां गांव में 
नानी के यहां,
न अच्छा है पानी
न अच्छा है खाना
और न अच्छी है 
हमारी तबियत...
यहां डराते हैं हमें
घूमते हुए सांप
जहरीले डंकवाले बिच्छू
आप बोल दो 
हनुमान जी से कि
हमें न काटें,
हमारा तो झगड़ा हुआ है
वो नहीं मानते 
हमारा कहना पर 
आपकी तो वो सुनते हैं न,
इसलिये आप बोल देना 
जरूर से - ध्यान से,
वर्ना..... वर्ना 'आपका सर'
और हनुमान जी का भी 'सर'
आप दोनों से कट्टी,
कट्टी - कट्टी - कट्टी !!!

- विशाल चर्चित

4 comments: