Tuesday, June 28, 2011

बाबा रामदेव : पहले तो सपनों में भी दिखता था योग...

पहले तो सपनों में भी दिखता था योग
फिर हुआ उसमें जड़ी - बूटियों का संयोग,
आजकल बाबा की काले धन पर नज़र है
इससे ठीक करेंगे अब तमाम देशी रोग....
कुछ सरकारी नेतागण को लगता है
ये है बाबा का गोरखधंधा,
सरकार के गले में बेवजह का
एक आरएसएसाईं फंदा,
संत - समाजसेवी जब हाथ मिलाने लगें
सरकारी कामकाज में टांग अड़ाने लगें,
बताइये कि क्या कहा जाये इसे
देश हित के लिहाज़ से,
योग में संयोग या योग का दुरूपयोग ?!






No comments:

Post a Comment