Friday, September 19, 2014

वो मधुमक्खी हम मधुमक्खा.....



8 comments:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल रविवार (21-09-2014) को "मेरी धरोहर...पेड़" (चर्चा मंच 1743) पर भी होगी।
    --
    चर्चा मंच के सभी पाठकों को
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
    Replies
    1. हृदय से आपका आभार सर जी !!!!

      Delete
  2. Replies
    1. शुक्रिया अरुण भाई जी !!!!

      Delete
  3. वाह!!!
    बातों-बातों में कह दी पूरी लंका.

    ReplyDelete
  4. Acchaa hai aise hi banti hai lanka.... Bahut khoob

    ReplyDelete
    Replies
    1. हा हा हा.... लंका में डंका.... नहीं कोई शंका.... शुक्रिया कि रचना पसंद आयी आपको !!!!

      Delete